‘मेक इन इंडिया’ में गुजराती करदाताओं के 33000 करोड़ रुपए खाक: राहुल गांधी

180900-rahul-gandhi

नई दिल्ली ;

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात के एक संयंत्र में नैनो कार के उत्पादन में कमी संबंधी एक खबर का उल्लेख किया और कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी ‘मेक इन इंडिया’ परियोजना ‘दम तोड़कर’ गुजराती करदाताओं के 33000 करोड़ रुपए को ‘खाक’ कर चुकी है. गांधी ने यह भी पूछा है कि पैसे को ‘खाक’ में बदलने के लिए किसको जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए. कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कथित रूप से कहा है कि गुजरात सरकार ने 33000 करोड़ रुपए का ‘फायदा’ साणंद में कार परियोजना की भेंट चढ़ा दिया.

गांधी ने ट्विटर पर कहा, ‘प्रधानमंत्री की महत्वाकांक्षी मेक इन इंडिया परियोजना दम तोड़ चुकी है. गुजराती करदाताओं के 33000 करोड़ रुपए खाक हो चुके हैं. कौन जिम्मेदार है ? ‘ कांग्रेस उपाध्यक्ष फिलहाल चुनावी राज्य गुजरात में प्रचार कर रहे हैं जहां पर 22 साल से भाजपा का शासन है.

खबर में दावा किया गया है कि टाटा मोटर्स के साणंद संयंत्र में नैनो कार का औसतन उत्पादन रोजाना ‘महज दो’ रह गया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर परोक्ष हमला करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात में चुनाव प्रचार के लिए जादूगरों का इस्तेमाल कर रही है क्योंकि पार्टी को इस बात का अहसास हो गया है कि उसके अपने ‘विशेषज्ञ जादूगार’ लोगों को लुभाने में अब विफल रहेंगे.

भाजपा द्वारा विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए जादूगरों का सहयोग लिये जाने की खबरों का हवाला देते हुए राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री पिछले 22 वर्ष से ‘जादू’ दिखा रहे हैं.

गांधी ने एक रैली में कहा, ‘अखबारों में यह खबर आयी है कि गुजरात में चुनाव प्रचार के लिए भारतीय जनता पार्टी कई जादूगरों को लेकर आ रही है. इस खबर को पढ़कर मैं दंग रह गया कि इतने जादूगरों की क्या जरूरत है जब पार्टी में एक विशेषज्ञ जादूगर पिछले 22 वर्ष से जादू दिखा रहा है.’ उन्होंने कहा, ‘इस बार भाजपा इस बात को लेकर भयभीत है कि उनके जादूगर (मोदी) विफल हो जाएंगे, इसीलिए वे लोग इतने जादूगरों को चुनाव प्रचार के लिए ला रहे हैं.’

loading...