अमेरिका में लापता हुई भारतीय बच्ची का पिता गिरफ्तार

ह्यूस्टन ;

अमेरिका में एक सड़क के नीचे एक सुरंग से एक बच्चे का शव मिलने के एक दिन बाद तीन वर्षीय भारतीय बच्ची शेरीन मैथ्यूज के पिता वेस्ले मैथ्यूज को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया और उस पर बच्ची को चोट पहुंचाने के प्रथम डिग्री अपराध के तहत आरोप लगाए गए हैं. शव मैथ्यूज के घर से एक किलोमीटर से भी कम की दूरी पर मिला है. टेक्सास पुलिस ने बताया कि शेरीन को बिहार के एक अनाथालय से दो साल पहले गोद लेने वाले 37 वर्षीय मैथ्यूज ने बच्ची के लापता होने के बारे में पहले जो घटनाक्रम बताया था, उसे उसने बदल दिया, जिसके बाद उसे गिरफ्तार किया गया.

पुलिस ने विस्तृत जानकारी नहीं देते हुए बताया कि केरल के रहने वाले मैथ्यूज ने एक छोटे बच्चे का शव मिलने के बाद जांचकर्ताओं को शेरीन के लापता होने संबंधी ‘‘घटनाक्रम के बारे में अलग बयान दिया’’. मैथ्यूज ने पहले दावा किया था कि शेरीन उस समय लापता हो गई थी जब उसने दूध पूरा नहीं पीने पर उसे डांटा था और सजा के तौर पर उसे सात अक्तूबर को देर रात करीब तीन बजे घर से कथित रूप से बाहर निकाल दिया था. तीन वर्षीय शेरीन शारीरिक विकास संबंधी समस्या से ग्रसित है और उसे बात करने में दिक्कत होती है. उसे घर से बाहर निकाले जाने के बाद अंतिम बार सात अक्तूबर को टेक्सास के रिचर्डसन शहर में उसके घर के पीछे वाले हिस्से में देखा गया था.

रिचर्डसन पुलिस सार्जेन्ट केविन पेरलिच ने बताया कि मैथ्यूज के खिलाफ बच्ची को चोट पहुंचाने के प्रथम डिग्री अपराध के तहत मंगलवार को आरोप लगाए हैं. इसके तहत दोषी पाए जाने पर आजीवन कारावास या पांच से 99 साल के कारावास तक की सजा हो सकती है. पुलिस ने घोषणा की थी कि उन्हें एक सुरंग से एक छोटे बच्चे का शव मिला है. पुलिस ने आशंका जताई थी कि यह शव ‘‘संभवत:’’ शेरीन का है, लेकिन उन्होंने शव की पहचान की पुष्टि नहीं की थी. उन्होंने बताया कि वेस्ले और उसका अटॉर्नी स्वयं रिचर्डसन पुलिस थाने पहुंचे और उन्होंने जांचकर्ताओं से बात करने का अनुरोध किया. उन्होंने बच्ची के लापता होने के बारे में उसके मूल बयान से अलग बयान दिया.

लिस प्रवक्ता ने बताया, ‘‘मैथ्यूज इस समय रिचर्डसन सिटी कारावास में है और उसके लिए जमानत की राशि 10 लाख डॉलर तय की गई है.’’ जांचकर्ता चिकित्सकीय जांचकर्ता कार्यालय की रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं ताकि इस बात की पुष्टि की जा सके कि यह शव शेरीन का है या नहीं. चाइल्ड प्रोटेक्टिव सर्विसेज ने वेस्ले मैथ्यूज की गिरफ्तारी के कुछ ही देर बाद उसकी चार वर्षीय जैविक पुत्री को अपने संरक्षण में ले लिया था. पुलिस ने पहले कहा था कि बच्ची की मां सिनी मैथ्यूज के खिलाफ कोई आरोप नहीं लगाए गए हैं. वह घटना के समय घर में थी लेकिन कथित रूप से वह सो रही थी और उसे यह जानकारी नहीं थी कि उसका पति क्या कर रहा है. लापता बच्ची शेरीन की बड़ी बहन कम से कम तीन और सप्ताह फोस्टर केयर में रहेगी.

डलास काउंटी के एक जज ने शेरीन की बहन के संरक्षण के मामले की सुनवाई 13 नवंबर तक के लिए स्थगित कर दी ताकि उसके पिता तब तक किसी वकील की सेवाएं ले सकें. शेरीन के मामले ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का भी ध्यान खींचा. सुषमा ने 19 अक्तूबर को ट्वीट किया था, ‘‘हम लापता बच्ची को लेकर बहुत चिंतित हैं. अमेरिका में भारतीय दूतावास इस पर ध्यान दे रहा है और वे मुझे जानकारी भी दे रहे हैं.’’ ह्यूस्टन में भारत के महावाणिज्यदूत अनुपम रे ने ट्वीट किया था, ‘‘हम शेरीन मैथ्यूज के मामले पर निकटता से नजर रख रहे हैं. हम समुदाय एवं प्राधिकारियों के संपर्क में हैं.’’

loading...