आंतकी हमले में 4 पर्यटकों के मारे जाने के IS के दावे को तजाकिस्तान ने किया खारिज

दुशान्बे ; 

तजाकिस्तान प्रशासन ने चार विदेशी साइकिल सवार की मौत की घटना को पहली बार ‘आतंकी हमला’ करार तो दिया है, लेकिन इस्लामिक स्टेट समूह द्वारा इस हमले की जिम्मेदारी लेने के दावे का खंडन किया है. कल जारी हुए एक बयान में सरकारी अभियोजक ने बताया कि इस हमले को पहले ‘हिट एंड रन’ की तरह सड़क दुर्घटना के रूप में देखा गया था जिसका मकसद ‘समाज में भय और घबराहट का माहौल तैयार करना और तजाकिस्तान गणराज्य के अंतरराष्ट्रीय प्राधिकार को कमजोर करना था, लेकिन अब विदेशी पर्यटकों पर हुए हमले को आतंकी हमला करार दिया गया है.

रविवार को सात विदेशी साइकल सवारों के एक समूह पर सशस्त्र हमलावरों ने हमला किया था. इस हमले में दो अमेरिकी, स्विट्जरलैंड के एक नागरिक और नीदरलैंड के एक नागरिक की मौत हो गई थी. मंगलवार को इस्लामिक स्टेट ने एक वीडियो जारी किया था जिसमें विदेशी पर्यटकों की हत्या के आरोपियों को इस्लामिक स्टेट के प्रति निष्ठा की प्रतिज्ञा लेते हुए दिखाया गया था.

पहली बार आधिकारिक तौर पर शुक्रवार को इस वीडियो का जिक्र करते हुए सरकारी अभियोजन ने कहा कि इस वीडियो क्लीप का मकसद अन्य आंतकवादी संगठन इस्लामिक रिनायसंस पार्टी पर से संदेह हटाना है. सरकारी अभियोजन के मुताबिक इस तरह के वीडियोज वायरल कर इस्लामिक स्टेट समाज में भय और घबराहट का माहौल पैदा करना चाहता है और तजाकिस्तान गणराज्य के अंतराष्ट्रीय प्राधिकार को कमजोर करना चाहता है. बता दें बीते रविवार को ही तजाकिस्तान में एक हमले में चार विदेशी पर्यटकों की मौत हो गई थी. (इनपुटः भाषा से भी)

loading...