आजम खान के सहयोगी के नाम लुकआउट नोटिस जारी

रामपुर ;

सांसद आजम खान के सहयोगी और रामपुर के पूर्व क्षेत्राधिकारी हसन के खिलाफ उत्‍तर प्रदेश पुलिस ने लुकआउट नोटिस जारी किया है. रामपुर के पुलिस अधीक्षक (एसपी) अजय पाल शर्मा के अनुसार, जमीन पर कब्जा करने और जबरन बसूली के 27 मामलों में वांछित हसन के खिलाफ एलओसी जारी कर दिया गया है. उत्‍तर प्रदेश पुलिस ने एलओसी के जरिए देश के सभी अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट, बंदरगाहों और जमीनी सीमाओं पर तैनात इमीग्रेशन विभाग को सतर्क किया गया है.

पुलिस के अनुसार, ये मामले आलियागंज गांव के निवासियों ने अजीमनगर पुलिस स्टेशन में दर्ज कराए हैं. राज्य पुलिस से सेवानिवृत्ति के बाद हसन वर्तमान में सुरक्षा प्रभारी हैं और आजम खान की मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी में तैनात है. अजय पाल शर्मा ने यह भी बताया कि पुलिस ने आजम खान के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन तथा भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की विभिन्न धाराओं के तहत दर्ज 13 मामलों में आरोप पत्र दाखिल कर दिया है.

रामपुर के एसपी ने बताया कि मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी के प्रशासनिक अधिकारी और प्रबंधक को नोटिस भेज कर उस जमीन के दस्तावेज प्रस्तुत करने के लिए कहा गया है, जिसके लिए यूनिवर्सिटी और उसके कुलाधिपति ने किसानों से खरीदने का दावा किया था. कुलाधिपति के इस दावे के विरुद्ध किसानों ने अब उनके खिलाफ मामला दर्ज कराया है. उन्होंने बताया कि हमने यूनिवर्सिटी प्रशासन से उस भुगतान के सबूत पेश करने के लिए भी कहा है, जो उसने किसानों से यूनिवर्सिटी के निर्माण के लिए जमीन खरीदते समय उन्हें भुगतान करने का दावा किया है.

loading...