कमनाथ सरकार को विधानसभा में मिली ‘संजीवनी’, मंत्रियों ने कहा-अब होंगे हमारे काम

भोपाल ;

मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि पांडवों ने जिस तरीके से कौरवों पर विजय प्राप्त की थी. कौरव कहते है बहुत संख्या है हमारी वैसे ही कमलनाथ के पांडव रण को पांच साल में जीत कर बताएंगे. जानता सुखी होगी. उनकी माने तो सीएम कमलनाथ कृष्ण की भूमिका में है. उल्‍लेखनीय है कि शर्मा प्रदेश के कर्मचारी नेताओं से एक बैठक करने के लिए पहुंचे थे, जहां उन्‍होंने यह बात कही.

पिछले 7 महीने के कार्यकाल का किस्सा मंत्री पीसी शर्मा ने जब सुनाया तो सभी हैरान रह गए. उनकी माने तो 7 महीने में अधिकारियों की कार्यप्रणाली समझ से परे थी. अधिकारी आपको कोई अहमियत नहीं दे रहे थे. विधानसभा में फ्लोर टेस्ट के दौरान सरकार की ताकत देखने के बाद अधिकारियों का रुख रातों रात बदल गया है. अब अधिकारी खुद फोन करने उनसे काम पूछने लगे हैं.

मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि अधिकारियों के इस रुख को देखकर मैं समझ गया, अब माहौल बदल गया है. मंत्री पीसी शर्मा इतने पर ही नहीं रुके. उन्होंने इसका सीधा श्रेय सीएम कमलनाथ को देते हुए उन्हें भगवान कृष्ण तक बता दिया. उनकी मानें तो उनके ही नेतृत्व का नतीजा है जिस तरह से भगवान कृष्ण के पास अर्जुन के रथ की डोर थी, उसी तरह प्रदेश की जनता की दौर कमलनाथ के हाथ है.

मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि पांडवों ने जिस तरीके से कौरवों पर विजय प्राप्त की थी. कौरव कहते है बहुत संख्या है हमारी वैसे ही कमलनाथ के पांडव रण को पांच साल में जीत कर बताएंगे. जानता सुखी होगी. उनकी माने तो सीएम कमलनाथ कृष्ण की भूमिका में है. उल्‍लेखनीय है कि शर्मा प्रदेश के कर्मचारी नेताओं से एक बैठक करने के लिए पहुंचे थे, जहां उन्‍होंने यह बात कही.

loading...