डेरा प्रमुख पर फैसला : हिंसा में 31 की मौत, UP के 9 जिलों में धारा 144, 9 आश्रम सील

नई दिल्ली ,

सीबीआई की विशेष अदालत ने डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को 15 वर्ष पुराने बलात्कार के एक मामले में शुक्रवार को दोषी करार दिया. न्यायाधीश जगदीप सिंह ने 50 वर्षीय डेरा प्रमुख को बलात्कार का दोषी ठहराते हुए कहा कि राम रहीम की सजा का ऐलान 28 अगस्त को किया जाएगा. राम रहीम के जेल जाने के बाद भड़की हिंसा में अब तक 31 लोगों की मौत हो गई है. दूसरी तरफ चंडीगढ़, सिरसा और पंचकूला में स्‍कूल-कॉलेज और सरकारी ऑफिस बंद हैं. पंचकूला में डेरा समर्थकों से तीन रायफल बरामद भी हुई हैं. शुक्रवार को हरियाणा में हिंसा फैलने के बाद दिल्‍ली और यूपी में भी इसका असर देखा गया.

@10.50 AM : हरियाणा में फैली हिंसा को ध्‍यान में रखते हुए यूपी के नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ, हापुड़, शामली, मुजफ्फरनगर और सहारनपुर में धारा 144 लागू कर दी गई है. यूपी के 9 जिलों में एहतियातन धारा 144 लगाई गई है.

@10.30 AM : कुरुक्षेत्र में डेरा सच्‍चा सौदा के 9 आश्रमों को सील कर दिया गया है. आश्रमों से 2500 लाठियां बरामद हुई हैं.

राम रहीम को सात वर्ष के कारावास से लेकर अजीवन कारावास तक की सजा सुनाई जा सकती है. राम रहीम को दोषी करार दिए जाते ही उनके समर्थक हिंसक हो गए. कई वाहनों को आग लगा दी गई. हिंसक भीड़ ने कई चैनलों की ओबी वैन को आग के हवाले कर दिया. मीडिया सूत्रों के मुताबिक इस हिंसा में 31 लोगों की मौत हो गई और 250 से ज्यादा लोग घायल हो गए. पंचकूला में 29 और सिरसा में दो लोगों की मौत हुई है. अधिकारियों ने कहा कि चारों तरफ जमकर तबाही मचाई गई कई जगह आगजनी की गई.

वहीं, पंजाब और हरियाणा में कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ने के चलते 445 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है. उत्तर रेलवे के प्रवक्ता नीरज शर्मा ने बताया, ‘‘हिंसा के चलते 485 ट्रेन सेवाएं प्रभावित हुई हैं. इन 445 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है.’’ रेलवे ने कहा कि 23 अगस्त से 28 अगस्त तक छह दिनों के लिए रद्द की गई ट्रेनों की कुल संख्या 445 है. अधिकारियों ने बताया कि पंजाब में मालौत और बल्लुआना रेलवे स्टेशनों पर डेरा प्रमुख के उग्र समर्थकों ने आंशिक रूप से आग लगा दी. शर्मा ने कहा, ‘‘दो स्टेशन प्रभावित हुए हैं और हमें नुकसान के बारे में अब भी जानकारी मिल रही हैं. अभी तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.’’

हरियाणा के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) बी. एस. संधु ने आज रात कहा कि पंचकूला में भड़की हिंसा के बाद करीब 550 लोगों को हिरासत में लिया गया है और कुछ हथियार एवं गोला-बारूद बरामद किए गए हैं. उन्होंने कहा कि पंचकूला में शाम को लागू किया गया कर्फ्यू हटा लिया गया है, लेकिन कुछ बंदिशें अब भी जारी हैं. डीजीपी ने देर रात एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘तीन राइफल, तीन पिस्तौल और कारतूस के साथ मादक पदार्थ बरामद किए गए और डेरा की 65 गाड़ियां जब्त की गईं.’’ संधु ने कहा कि पंचकूला में हुई हिंसा में 28 लोग मारे गए जिसमें छह की मौत गोली लगने से हुई.

उन्होंने कहा कि दो एसएसपी सहित 60 पुलिसकर्मी भी हिंसा में घायल हुए हैं. डीजीपी ने कहा कि पंचकूला अब शांतिपूर्ण है और डेरा के सभी समर्थकों को शहर से बाहर कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि सुरक्षा बल पंचकूला में फ्लैग मार्च करेंगे. डीजीपी ने कहा कि सिरसा को छोड़कर बाकी पूरे हरियाणा में हालात नियंत्रण में हैं. सिरसा में डेरा सच्चा सौदा का मुख्यालय है.

loading...