तनुश्री दत्ता के समर्थन में आए बॉलीवुड सितारे, तो शूटिंग सेट से गायब हुए नाना पाटेकर

नई दिल्ली ; 

बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा, एक्टर फरहान खान और हंसल मेहता जैसे बॉलीवुड दिग्गज अभिनेत्री तनुश्री दत्ता के समर्थन में सामने आए हैं. तनुश्री ने अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. वर्ष 2008 में ही नाना के खिलाफ आवाज उठा चुकीं तनुश्री ने हाल दिए एक साक्षात्कार में एक बार फिर अपने यौन उत्पीड़न का मुद्दा उठाया. उन्होंने फिल्म ‘हॉर्न ओके प्लीज’ के सेट पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. तनुश्री ने न्यूज एजेंसी आईएएनएस को दिए एक साक्षात्कार में कहा, “राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता अभिनेता होने के नाते नाना के रुतबे की वजह से मेरी आवाज दबा दी गई. बॉलीवुड सितारों ने ट्वीट कर तनुश्री के प्रति समर्थन जताया.”

वहीं, दूसरी ओर इस मामले में एक नई जानकारी सामने आई है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार नाना पाटेकर इस विवाद के बाद से शूटिंग सेट से नदारद हैं. नाना हाल ही में फरहा खान के इंस्टाग्राम पर शेयर की गई एक तस्वीर में नजर आए थे जिसके बाद पता चला कि वह अपने क्रू के साथ फिल्म ‘हाउसफुल 4’ की शूटिंग के लिए जा रहे हैं. जानकारी के मुताबिक क्रू के साथ नाना जैसलमेर गुरुवार को ही पहुंच गए थे, लेकिन उसके बाद से शूटिंग सेट पर नहीं आए हैं. नाना को पहले  दिन से ही शूटिंग सेट पर होना था लेकिन वह शूटिंग सेट पर नहीं आ रहे हैं. इससे पहले गुरुवार को नाना पाटेकर ने तनुश्री दत्ता द्वारा लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा था कि वह इस मामले में कानूनी कार्रवाई कर सकते हैं.

तनुश्री के सपोर्ट में आईं प्रियंका चोपड़ा ने ट्वीट में कहा, “सहमत हूं.. दुनिया को पीड़ितों पर विश्वास करने की जरूरत है.” वर्ष 2013 में महिलाओं के समर्थन मे ‘मर्द-मेन अगेंस्ट रेप एंड डिस्क्रिमिनेशन’ नाम से सामाजिक अभियान चला चुके फरहान अख्तर ने एक ऐसे प्रत्यक्षदर्शी के कई ट्वीट को रिट्वीट किया, जिसमें तनुश्री के उत्पीड़न का पूरा विवरण है. फरहान ने कहा, “यह थ्रेड बहुत कुछ कहता है. जिस पर आज बात हो रही है, उस घटना के समय जेनिस (सेकुएरा, जो उस समय न्यूज चैनल में थीं) वहां मौजूद थीं. यहां तक की जब तनुश्री दत्ता को करियर की चिंता को लेकर 10 साल चुप रहना पड़ा, वह चुप नहीं रहीं. और उनकी कहानी अभी भी नहीं बदली है. उनके साहस की प्रशंसा करनी चाहिए ना की उनकी नीयत पर संदेह करना चाहिए.”

अभिनेत्री ऋचा चड्ढा ने लिखा, “अभी तनुश्री दत्ता होना तकलीफदेह है. अकेली, सवालों के घेरे में.” फिल्म निर्माता हंसल मेहता ने ट्वीट किया, “भारत में आमतौर पर अनुकूल कामकाजी माहौल नहीं है. रुतबे वाली स्थिति में पहुंचे लोगों द्वारा मानसिक उत्पीड़न, छेड़छाड़ और गलत व्यवहार आम है और इन सब हरकतों को उनकी ताकत का लाभ माना जाता है. औपनिवेशिक शासन और वर्षो के उत्पीड़न ने हमारा डीएनए बदल दिया है.” अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने पोस्ट्स की श्रृंखलाओं को री-ट्वीट करते हुए लिखा, “यह एक लंबी कड़ी है, लेकिन इसे पढ़ा जाना चाहिए..बहुत सारे संकेत हैं जो बताते हैं कि बॉलीवुड ‘मीटू मूवमेंट’ से दूर क्यों है. क्योंकि, हम उन आवाजों को सुनना ही नहीं चाहते.”

अभिनेता अक्षय कुमार की पत्नी, फिल्म निर्माता व लेखिका ट्विंकल खन्ना ने ट्वीट किया, “तनुश्री दत्ता पर फैसला लेने या उन्हें शर्मिदा करने से पहले कृपया इस कड़ी को पढ़ें- उत्पीड़न और धमकी के बिना कामकाजी माहौल एक मौलिक अधिकार है और बहादुर महिला द्वारा बोलने से हम सभी को उस लक्ष्य की ओर बढ़ने में मदद मिलती है!” सेकुएरा ने बुधवार को ट्वीट की एक श्रृंखला में उस घटना का जिक्र किया और लिखा, “एक दशक पहले कि कुछ घटनाएं आपके जहन में ताजा रहती हैं. तनुश्री के साथ जो हुआ, वह भी एक ऐसी घटना है.” उन्होंने कहा कि उन्होंने देखा था कि अभिनेत्री दुखी नजर आ रही थीं और नाना, कोरियोग्राफर गणेश आचार्य और फिल्म निर्माता एक साथ नजर आ रहे थे.

उन्होंने कहा, “इस सब हंगामे के बीच मैं नाना पाटेकर के पास गई और उन्होंने कहा, ‘मेरी बेटी जैसी है’. उस वक्त इस बात का कोई अर्थ नहीं निकल रहा था.” उन्होंने लिखा कि उन्हें बाद में अहसास हुआ कि मामला क्या था. नाना ने गुरुवार को एक समाचार चैनल से कहा, “मैं इसमें क्या कर सकता हूं? मुझे बताओ. यौन उत्पीड़न का अर्थ क्या है.” वहीं अभिनेता अमिताभ बच्चन के प्रशंसक इस बात को लेकर चौंके हुए हैं कि तनुश्री विवाद मामले में उन्हेंने कहा, “ना तो मेरा नाम तनुश्री है, न ही नाना पाटेकर, कैसे उत्तर दूं इस सवाल का?’

loading...