तनुश्री दत्ता के साथ आई काजोल बोलीं, ‘अगर यह मेरे सामने हुआ होता, तो मैं कुछ कर देती’

नई दिल्ली ; 

तनुश्री दत्ता ने आरोप लगाया कि नाना पाटेकर ने फिल्म ‘हॉर्न ओके प्लीज’ के सेट पर 10 साल पहले यौन उत्पीड़न किया था, इसके बाद कई बॉलीवुड के हस्तियों ने इस बारे में बातें करनी शुरू कर दी हैं. कुछ इस विषय पर पूरी तरह चुप हैं वहीं कुछ ने इंडस्ट्री में होने वाले कास्टिंग काउच पर चिंता व्यक्त की है. ऐसे में अब कालोज ने भी इस विषय पर अपनी चुप्पी तोड़ी है.

बॉलीवुड की टॉप एक्ट्रेस में से एक काजोल भी इसके बारे में अब खुल कर बोल रही हैं. वह तो यह कहने से भी नहीं चूक रही कि बॉलीवुड में यौन उत्पीड़न ‘निश्चित रूप से वास्तविकता’ है. हालांकि काजोल अभी नाना पाटेकर के खिलाफ तनुश्री द्वारा लगाए गए आरोपों की पूरी डीटेल से वाकिफ नहीं हैं. काजोल ने यह भी कहा कि उत्पीड़न केवल फिल्म उद्योग तक सीमित नहीं बल्कि पुरुषों द्वारा महिलाओं का उत्पीड़न पूरे समाज की सच्चाई है.

अभिनेता अपनी अपकमिंग फिल्म ‘हेलीकॉप्टर एला’ के प्रचार के दौरान मीडिया से बात कर रही थी तभी इस तनुश्री से संबंधित सवाल पर काजोल ने कहा कि उन्होंने कभी भी इस तरह का कोई व्यक्तिगत अनुभव नहीं किया है, लेकिन तनुश्री दत्ता के बताए अनुसार वह इस पर कहती हैं, ‘मैंने इसे कभी नहीं देखा है लेकिन मैंने इसके बारे में सुना है. लेकिन तब भी इस बात को नकारा नहीं जा सकता’.

काजोल ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि, ‘अगर यह मेरे सामने हुआ था, तो मुझे यकीन है कि मैं खड़ी होती या इसके बारे में कुछ जरूर करती.’ उन्होंने कहा कि इस तरह के परेशान कर देने वाले अनुभव फिल्म उद्योग तक सीमित नहीं हैं. मुझे लगता है कि यह पूरी तरह से चिंता का विषय है.’ काजोल ने यह कहा कि भारत में #MeToo आंदोलन की बहुत ज्यादा आवश्यकता थी. वह कहती हैं कि “#MeToo आंदोलन का पूरा पाइंट ही इतना है कि सार्वजनिक मंच पर आप अपने लिए खड़े हों, जब आप अपने लिए आवाज उठाते हैं तो पाते हैं कि आपके साथ खड़े होने वालों की कमी नहीं है.’

बता दें कि इस मामले पर तनुश्री के साथ अब तक कंगना रनौत, फरहान अख्तर, हंसल मेहता, प्रियंका चोपड़ा, वरुण धवन और सोनम कपूर समेत कई अन्य बॉलीवुड हस्तियां सामने आई हैं.

loading...