द्रविड़ ने पेश की मिसाल, अपना इनाम आधा कराकर दूसरों को करा दिया मालामाल

नई दिल्ली ;

टीम इंडिया की दीवार कहे जाने वाले पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने एक बार फिर से साबित कर दिया कि इस जेंटलमैन गेम में वह क्यों सबसे अलग हैं. अभी हाल में राहुल द्रविड़ की कोचिंग में अंडर-19 टीम ने चौथी बार वर्ल्डकप अपने नाम किया. इसके बाद बीसीसीआई ने मुख्य कोच, सहायक कोच और टीम के खिलाड़ियों के लिए इनामी रकम का ऐलान किया था. इस पर कोचिंग स्टॉफ को दी जाने वाली इनामी रकम में अंतर को लेकर राहुल द्रविड़ ने नाखुशी जाहिर की थी. उन्होंने मांग की थी कि इनाम के तौर पर दी जाने वाली इनामी राशि सभी को बराबर दी जाए.

अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने राहुल द्रविड़ की इस मांग को स्वीकार कर लिया है. कमाल की बात ये है कि राहुल द्रविड़ की इस मांग को स्वीकार करते ही खुद उनकी इनामी राशि आधी रह जाएगी, बावजूद उन्होंने इस बात की मांग की थी कि सभी को बराबर इनाम दिया जाए. अब बोर्ड अंडर-19 से जुड़े सभी स्टाफ को बराबर की राशि देगा. राहुल द्रविड़ के इस काम की अब सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है.

बीसीसीआई ने राहुल द्रविड़ की मांग मानते हुए वर्ल्डकप से जुड़े स्टाफ के अलावा, अंडर-19 टीम से एक साल पहले तक जुड़े सदस्य को भी समान इनामी रकम देने का फैसला किया है.

अंडर-19 वर्ल्डकप जीतने के बाद बीसीसीआई ने राहुल द्रविड़ को 50 लाख, स्पोर्ट स्टाफ के प्रत्येक सदस्य को 30 लाख और टीम के हर मेंबर को 30 लाख रुपए इनाम की घोषणा की थी. इस घोषणा के बाद राहुल द्रविड़ ने इस पर अपनी नाखुशी जाहिर की थी. उन्होंने बोर्ड से अनुरोध किया था कि इनामी राशि में भेदभाव नहीं होना चाहिए. इस फैसले पर कोचिंग स्टॉफ के सदस्यों के साथ भेदभाव खत्म किए जाने का अनुरोध किया था. बोर्ड के सूत्रों के अनुसार अब बीसीसीआई ने इनामी रकम दिए जाने वाले लोगों की सूची में भी इजाफा कर दिया है.

पहले घोषित रकम के अनुसार राहुल द्रविड़ को अब मिलने वाली इनामी राशि आधी रह जाएगी. द्रविड़ की मांग मानने का नतीजा अब ये होगा कि उन्हें 50 लाख की जगह पच्चीस लाख मिलेंगे. बोर्ड ने कोचिंग स्टॉफ के वर्तमान और विश्व कप से पहले जुड़े स्टॉफ के हर सदस्यों को 25-25 लाख रुपये इनाम में देने का फैसला किया है.

इनामी रकम अब अंडर-19 टीम से जुड़े उन सदस्यों को भी दी जाएगी, जो करीब एक साल पहले तक वर्ल्डकप की तैयारियों के कारण टीम से जुड़े थे. द्रविड़ के अनुरोध के बाद बीसीसीआई के इस फैसले का सबसे ज्यादा फायदा टीम ट्रेनर रहे राजेश सावंत के परिवार को मिलेगा. उनका पिछले साल निधन हो गया था. अब उनके परिवार को भी बड़ी इनामी रकम मिलेगी.

अंडर-19 के कोच राहुल द्रविड़ ने बोर्ड के सीईओ राहुल जोहरी के साथ मुंबई में 14 फरवरी को मुलाकात की थी. इस मीटिंग में उन्होंने इनामी रकम एक समान दिए जाने की मांग की थी. अब बोर्ड के इस फैसले के बाद इंग्लैंड का दौरा करने वाली अंडर-19 टीम के साथ जुड़े कोच डब्ल्यूवी रमन, मैनेजर मनुज शर्मा और सुमित मलाहपुरकर और ट्रेनर अमोघ पंडित को भी इनामी रकम मिलेगी.

loading...