पांड्या की जगह टीम में आए विजय शंकर ने बड़े शॉट्स के लिए की खास ट्रेनिंग

नई दिल्ली ;

श्रीलंका में होने वाली तीन देशों की टी20 सीरीज में 6 खिलाड़ियों की फिर से टीम में वापसी हुई है. इनमें से एक हैं ऑलराउंडर विजय शंकर. इन्हें ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की जगह लाया गया है. इससे पहले जब श्रीलंका की टीम भारत के दौरे पर आई थी, तब भी उन्हें टेस्ट टीम में शामिल किया गया था. लेकिन वह कोई मैच नहीं खेल पाए थे. लेकिन अब श्रीलंका दौरे पर उम्मीद है कि उन्हें खेलने का मौका जरूर मिलेगा.

तमिलनाडु के ऑलराउंडर विजय शंकर का जन्म 26 जनवरी 1991 को हुआ. वह सबसे पहले तब खबरों में आए, जब 2014 में उन्हें आईपीएल में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स टीम में लिया गया. विजयशंकर अपनी बॉल और बल्ले दोनों से कमाल दिखाते हैं. 27 साल के विजयशंकर ने 32 फर्स्ट क्लास मैचों में 1671 रन बनाए हैं. इसके अलावा 32 विकेट भी अपने नाम किए हैं. वह इंडिया-ए की तरफ से भी कुछ मैच खेल चुके हैं.

विजय शंकर दाएं हाथ के बल्लेबाज और मीडियम पेसर गेंदबाज के रूप में खेलते हैं. विजयशंकर अभी भले मीडियम पेसर के रूप में अपनी पहचान बनाने में कामयाब हो गए हों, लेकिन एक समय वह ऑफ स्पिन गेंदबाजी किया करते थे. लेकिन बाद में उन्होंने अपनी स्टाइल चेंज कर ली.

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली पहले भी विजय शंकर की तारीफ कर चुके हैं. वैसे भी टीम इंडिया के पास अभी सिर्फ हार्दिक पांड्या ऑलराउंडर हैं. ऐसे में टीम इंडिया चाहती है कि उनकी ही तरह कोई और ऑलराउंडर टीम में तैयार हो. विजय शंकर एक अच्छा विकल्प हो सकते हैं. हालांकि खुद विजय शंकर अपनी तुलना किसी से नहीं करते. वह कहते हैं कि सभी खिलाड़ियों के खेलने का अपना तरीका होता है.

घरेलू टूर्नामेंट में विजय शंकर को पावर हिटर के रूप में जाना जाता है. वह मध्यक्रम में हार्दिक पांड्या की तरह ही ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं. विजय हजारे और सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में उन्होंने अपनी बल्लेबाजी का प्रदर्शन भी किया था. विजय शंकर कहते हैं कि बड़े शॉट्स मारने के  लिए उन्होंने पिछले महीनों में उन्होंने अपने कोच के साथ कड़ी ट्रेनिंग ली है. उनके कोच एस बालाजी ने उन्हें टी20 जैसे फॉर्मेट में बड़े हिट्स के लिए टेनिस बॉल से प्रैक्टिस कराई.

विजयशंकर के पिता खुद युवावस्था में क्रिकेट खेलते थे. उनके भाई अजय तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के लोअर डिविजन में क्रिकेट खेल चुके हैं.  2017 में विजय हैदराबाद सनराइजर्स की ओर से आईपीएल में खेले थे. इससे पहले 2014 में उन्होंने आईपीएल में सबसे पहले चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से हिस्सा लिया था. हालांकि तब वह सिर्फ एक मैच खेल पाए थे.

विजय शंकर अपना आइडल राहुल द्रविड़ को मानते हैं. खासकर राहुल की एडिलेड में खेली गई 233 और 72 रनों की पारियां उन्हें बहुत पसंद हैं. उनका कहना है कि कई बार वह इन पारियों को अपने आपको प्रेरित करने के लिए देखते हैं. यो यो टेस्ट में विजय का स्कोर 18.5 का है. इसमें बेंचमार्क 16.1 का है.

loading...