मलेशिया ने कहा- 1 एमडीबी में गबन का मास्टरमाइंड मकाऊ फरार

कुआलालंपुर ; 

मलेशिया की पुलिस ने कहा है कि राजकीय निवेश कोष 1 एमडीबी में गबन के मामले में वांछित कारोबारी लो टीक झो मकाऊ में किसी अज्ञात स्थान पर चला गया है. पुलिस प्रमुख मोहम्मद फूजी हारून ने बुधवार को कहा कि लो के पास हो सकता है कि कई पासपोर्ट हों, ऐसे में उसे पकड़ना मुश्किल होगा.

दरअसल, 1 एमडीबी की स्थापना तत्कालीन प्रधानमंत्री नजीब रजाक ने की थी. लेकिन कंपनी ने अरबों रुपए का कर्ज ले लिया और अब इसकी जांच अमेरिका समेत कई देशों में चल रही है. इससे जनता में फैली नाराजगी का परिणाम नजीब को चुनाव में हार के रूप में भुगतना पड़ा.नई सरकार ने 1 एमडीबी की जांच फिर से शुरू कर दी है और इस बारे में लो से पूछताछ की जानी है. अमेरिकी अभियोजकों के मुताबिक लो गबन के इस मामले के केंद्र में है.

बता दें कि भ्रष्टाचार के एक मामले में मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रज्जाक को मंगलवार(3 जुलाई) को भ्रष्टाचार निरोधी जांचकर्ताओं ने गिरफ्तार कर लिया. जांचकर्ताओं ने ऐसे कई कदम उठाए जिनके चलते नजीब, उनके परिवार और उनके कई करीबी राजनेताओं तथा कारोबार के सहयोगियों के इर्दगिर्द कानूनी शिकंजा कसता जा रहा है.  नजीब और उनके कृपापात्रों पर आरोप है कि उन्होंने 1 एमडीबी में अरबों डॉलर की राशि का हेरफेर किया और उस पैसे को अमेरिका में रियल एस्टेट से लेकर कई चीजों को खरीदनें में इस्तेमाल किया.

बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार के आरोपों का एक बड़ा कारण था कि नजीब की अगुवाई में लंबे समय से सत्ता में रहने वाला गठबंधन मई चुनाव में हार गया था और महातीर मोहम्मद के नेतृत्व में सुधारवदी गठबंधन जीत गया.

loading...