सर्दी-जुकाम से परेशान हैं तो इन घरेलू नुस्खों से कुछ घंटों में मिलेगा आराम

नई दिल्ली ; 

मौसम बदलने के साथ ही सर्दी-जुकाम की समस्या आम हो जाती है और इसमें आपकी तकलीफ भी बढ़ जाती है. हालांकि यह कोई गंभीर तो बीमारी नहीं है. लेकिन इसमें दवाइयों का असर भी कम होता है. इसके लिए सबसे अच्छा और घरेलू उपाय है देसी नुस्खों का इस्तेमाल. घर में बनाए जाने वाले इन देसी नुस्खों से आप आसानी से सर्दी जुकाम को काबू में कर अपना इलाज कर सकते है. आगे पढ़िए घर में आसानी से बनाए जाने वाले घरेलू उपाय जिनकी मदद से आप सर्दी-जुकाम से चंद घंटों में ही राहत पा सकते हैं.

गर्म पानी या फिर गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी मिलाकर पीने से सर्दी जुकाम में तेजी से फायदा होता है. यह नुस्खा न सिर्फ बच्चों बल्कि बड़ों के लिए भी कारगर साबित होता है. हल्दी एंटी वायरल और एंटी बैक्टेरियल होती है जो सर्दी जुकाम से लड़ने में मददगार होती है.

अदरख के यूं तो तमाम फायदे हैं लेकिन अदरख की चाय सर्दी-जुकाम में भारी राहत प्रदान करती है. सर्दी-जुकाम या फिर फ्लू के सिम्टम में ताजा अदरख को बिल्कुल बारीक कर लें और उसमें एक कप गरम पानी या दूध मिलाए. उसे कुछ देर तक उबलने के बाद पीए. यह नुस्खा आपको सर्दी जुकाम से राहत पाने में तेजी से मदद करता है.

नींबू और शहद के इस्तेमाल से सर्दी और जुकाम में फायदा होता है. दो चम्मच शहद में एक चम्मच नींबू का रस एक ग्लास गुनगुने पानी या फिर गर्म दूध में मिलाकर पीने से इसमें काफी लाभ होता है.

लहसुन सर्दी-जुकाम से लड़ने में काफी मददगार होता है. लहसुन में एलिसिन नामक एक रसायण होता है जो एंडी बैक्टेरियल, एंटी वायरल और एंटी फंगल होता है. लहसुन की पांच कलियों को घी में भुनकर खाए. ऐसा एक दो बार करने से जुकाम में आराम मिल जाता है. सर्दी जुकाम के संक्रमण को लहसुन तेजी से दूर करता है.

तुलसी और अदरख को सर्दी-जुकाम के लिए रामबाण माना जाता है. इसके सेवन से इसमें तुरंत राहत मिलती है. एक कप गर्म पानी में तुलसी की पांच-सात पत्तियां ले. उसमें अदरख के एक टुकड़े को भी डाल दे. उसे कुछ देर तक उबलने दे और उसका काढ़ा बना ले. जब पानी बिल्कुल आधा रह जाए तो इसे आप धीरे-धीरे पी ले. यह नुस्खा बच्चों के साथ बड़ों को भी सर्दी-जुकाम में राहत दिलाने के लिए असरदार होता है.

loading...