#MeToo केम्पेन पर बोले सैफ अली खान: ‘मैं समझता हूं महिलाओं का दर्द, 25 साल पहले मेरा भी हुआ था उत्पीड़न’

नई दिल्ली ; 

इन दिनों बॉलीवुड पूरी तरह से दो हिस्सों में बंटा हुआ नजर आ रहा है. एक पल में कोई #MeToo के पक्ष में खड़ा नजर आता है तो अगले ही पल कोई इसका विरोध जताता है. इस मामले में अब बड़े-बड़े स्टार्स ने भी कड़ा कदम उठाना शुरू कर दिया है. लेकिन रविवार को बॉलीवुड के सुपर स्टार सैफ अली खान के बयान ने इंडस्ट्री में एक बार फिर से खलबली मचा दी है. सैफ ने बोलने वाली महिलाओं का साथ तो दिया ही है, साथ ही अपने उत्पीड़न का भी खुलासा किया है.

बॉलीवुड के सुपर स्टार सैफ अली खान ने कहा है कि वह #MeToo अभियान के तहत यौन उत्पीड़न की अपनी कहानियों को साझा करने वाली महिलाओं के साथ पूरी एकजुटता के साथ खड़े हैं क्योंकि वह उनकी उस पीड़ा को बखूबी समझते है, जिससे वे गुजरी हैं. सैफ ने कहा कि उन्होंने कई साल पहले उत्पीड़न का सामना किया था लेकिन वह यौन प्रकृति का नहीं था. सैफ ने कहा, ‘मेरे करियर में मेरा भी उत्पीड़न हुआ है, यह यौन प्रकृति का नहीं था, लेकिन 25 वर्ष पहले मुझे सताया गया था और मैं अब भी उसे लेकर गुस्से में हूं.’

उन्होंने कहा, ‘ज्यादातर लोग दूसरे लोगों को नहीं समझते है. दूसरों के दर्द को समझना बहुत मुश्किल है. मैं इसके बारे में बात नहीं करना चाहता हूं. यहां तक कि जब मैं सोचता हूं कि मेरे साथ क्या हुआ, तब मुझे गुस्सा आ जाता है. आज, हमें महिलाओं का ध्यान रखना है.’  सैफ ने कहा कि अपराधियों को दंडित किया जाना चाहिए.

‘हमशक्ल’ फिल्म की उनकी सह-कलाकार बिपाशा बसु और ईशा गुप्ता ने 2014 में आई इस फिल्म के सेट पर निर्देशक साजिद खान के ‘असभ्य’ व्यवहार के बारे में हाल ही में खुलासा किया था. बिपाशा ने कहा था कि वह महिलाओं के प्रति साजिद के व्यवहार से नाराज थी जबकि ईशा ने खुलासा किया था कि साजिद से उनकी बहस हुई थी. गौरतलब है कि साजिद खान और सुभाष घई जैसे कई डायरेक्टर्स पर आरोप लगाए जा चुके हैं.

loading...